Categories
Afghaistan ki Lok Kathayen Bed time Stories Lok Kathayen Story

Afghanistani Lok Kathayen -1(अफगानिस्तानी लोक कथाएँ-1)

कहानी –ऊपर वाले का करम-अफगानिस्तानी लोक कथा

ishhoo blog image19

एक बूढ़ा आदमी नदी के किनारे पर जा रहे था। एक जगह उसने देखा कि नदी की सतह से एक कछुआ निकला और पानी के किनारे पर आ गया। उसी किनारे से एक बड़े ही जहरीले बिच्छु ने नदी के अन्दर छलांग लगाई और कछुए की पीठ पर सवार हो गया। कछुए ने तैरना शुरू कर दिया। वह बूढ़ा आदमी बड़ा हैरान हुआ।

उसने उस कछुए का पीछा करने की ठानी। इसलिए नदी में तैर कर उस कछुए का पीछा किया। वह कछुआ नदी के दूसरे किनारे पर जाकर रूक गया। और बिच्छू उसकी पीठ से छलांग लगाकर दूसरे किनारे पर चढ़ गया और आगे चलना शरू कर दिया। वह बूढ़ा आदमी भी उसके पीछे चलता रहा। आगे जाकर उसने देखा कि जिस तरफ बिच्छू जा रहा था उसके रास्ते में एक एक फ़कीर बड़े ध्यान में आँखे बन्द कर मालिक की याद में सज़दे में लगा हुआ था।

उस बूढ़े आदमी ने सोचा कि अगर यह बिच्छू उस नौजवान को काटना चाहेगा तो मैं करीब पहुंचने से पहले ही उसे अपनी लाठी से मार डालूंगा। लेकिन वह चंद कदम आगे बढ़ा ही था कि उसने देखा दूसरी तरफ से एक काला जहरीला नाग तेजी से उस नौजवान को डसने के लिए आगे बढ़ रहा था। इतने में बिच्छू भी वहां पहुंच गया।